संदेश

मार्च 6, 2011 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

कैसे आती है सुनामी ?

चित्र
जापान के उत्तर पूर्वी इलाकों में भूकंप के बाद जबरजस्त सुनामी आई है। इससे पहले २००४ में साऊथ ईस्ट एशियाई देशों में भी भूकंप के बाद सुनामी या समुद्री हलचल से बड़ी तबाही हुई थी। समुद्र में उठी कई मीटर ऊँची लहरों को सुनामी कहा जाता है वास्तव में सु यानि समुद्र तट और नामी मतलब लहरें यह जापानी भाषा का ही शब्द है। समुद्र के भीतर अचानक बड़ी तेज हलचल होने लगे उफान उठने लगे ,लम्बी ऊँची लहरों का रेला उठाने लगे, जबरजस्त आवेग के साथ आगे बढने लगे तो इसको सुनामी कहा जाता है। पहले सुनामी को समुद्र के अन्दर उठने वाले ज्वार के रूप में लिया जाता था। लेकिन हकीकत में ऐसा नही है। दरअसल समुद्र में लहरे चाँद सूरज और ग्रहों के प्रभाव के कारण उनके गुरुत्वाकर्षण के प्रभाव के कारण उठती है। लेकिन सुनामी लहरें इन आम लहरों से अलग होती हैं। इसके पीछे कई कारण होते है लेकिन सबसे ज्यादा असरदार कारण है भूकंप । जमीन धसने, ज्वालामुखी विस्फोट, उल्कापात से भी सुनामी आ सकती है। सुनामी लहरें समुद्र तटीय इलाकों पर भीषण तरीके से हमला करती है जिसमे जान मॉल का भारी नुकसान होता है। भूकंप या सुनामी कि कोई सटीक भविष्यवाणी नही हो